Actor Kamran Rizvi Biography: तहखाना फिल्म के विजय की मौत की खौफनाक कहानी

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography

Photo: YouTube Screenshot

Actor Kamran Rizvi. आज हिंदुस्तान के बेहद कम सिने प्रेमियों को ये नाम मालूम होगा। लेकिन साल 1986 में रिलीज़ हुई रामसे ब्रदर्स की सुपरहिट हॉरर फिल्म तहखाना जितने भी लोगों ने देखी होगी और फिल्म की कहानी जिन लोगों को भी याद होगी, उन्हें आरती का प्रेमी विजय ज़रूर याद होगा। तमाम मुश्किलों से लड़ते हुए विजय अपने पिता से निभाया हुआ वादा पूरा करता है और बुराई को खत्म करके अच्छाई को जीत दिलाता है।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

आज Modern Kabootar पर हम तहखाना फिल्म के विजय यानि Actor Kamran Rizvi की बेहद दुखभरी कहानी आपको सुनाएंगे। Actor Kamran Rizvi के साथ हुई एक भयानक वारदात ने कैसे उनकी ज़िंदगी लील ली। आज यही किस्सा हम और आप जानेंगे।

ऐसे शुरू होती है Actor Kamran Rizvi की कहानी

कामरान रिज़वी के बारे में बहुत ज़्यादा जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध नहीं है। बताया जाता है कि जब कामरान काफी छोटे थे तब इनके पिता ने इनकी मां को तलाक देकर एक दूसरी औरत के साथ शादी कर ली थी।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

वो दूसरी औरत कोई और नहीं, बल्कि बॉलीवुड की दो मशहूर अभिनेत्री बहनों फराह खान और तब्बू की मां की सगी बहन थी। माता-पिता के तलाक के बाद कामरान अपने पिता के साथ रहे। इस तरह कामरान तब्बू और फराह खान के कज़िन हुए और मशहूर अदाकारा शबाना आज़मी के भतीजे हुए।

Actor Kamran Rizvi के पिता ने की थी दूसरी शादी

कामरान जब छोटे ही थे तो उनके पिता उनकी नई मां के साथ कनाडा शिफ्ट हो गए। कामरान के पिता ने अपनी नई पत्नी यानि कामरान की नई मां की एक विधवा बहन को भी अपने साथ कनाडा आने का न्यौता दिया।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

कामरान के पिता ने उनसे कहा कि चूंकि इस्लाम में एक पुरुष दो पत्नियां रख सकता है इसलिए वो उनसे भी शादी करना चाहते हैं और उन्हें जीवन भर के लिए सहारा देना चाहते हैं। कामरान की नई मां की वो विधवा बहन भी इनके पिता के साथ शादी के लिए तैयार हो गई।

अमेरिका-कनाडा में गुज़रा अधिकतर जीवन

कामरान की ज़िंदगी का काफी वक्त कनाडा और अमेरिका में गुज़रा था। पिता के साथ कामरान कनाडा में रहे और उन्होंने पढ़ाई अमेरिका से की। अमेरिका के शिकागो शहर स्थित रूज़वेल्ट यूनिवर्सिटी से कामरान ने ग्रेजुएशन किया था। स्टूडेंट लाइफ के दौरान ही कामरान वीडियोग्राफी भी किया करते थे। कामरान ने तुम कौन हो नाम से एक फीचर फिल्म भी बनाई थी।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

शिकागो में ही एक दिन इनकी मुलाकात महान भारतीय अभिनेता संजीव कुमार से हुई थी। संजीव कुमार से बातचीत के दौरान इन्होंने अभिनेता बनने की ख्वाहिश जताई। तब संजीव कुमार ने इन्हें सलाह दी कि अगर अभिनेता बनना है तो तुम्हें जल्द से जल्द भारत जाना चाहिए।

Actor Kamran Rizvi ने मान ली Sanjiv Kumar की सलाह

संजीव कुमार की सलाह मानते हुए ये भारत लौट आए और यहां आकर इन्होंने अभिनेता बनने के लिए संघर्ष करना शुरू कर दिया। अच्छी पर्सनैलिटी के मालिक कामरान को जल्दी ही फिल्मों और टीवी शोज़ में काम करने के ऑफर्स मिलने लगे।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

काफी कम लोग इस बात से वाकिफ हैं कि नीरजा गुलेरी के बेहद लोकप्रिय टीवी शो चंद्रकांता के लिए पहले कामरान और अभिनेत्री अनुराधा पटेल को मुख्य भूमिकाओं में चुना गया था। लेकिन उस वक्त किन्हीं कारणों के चलते इस शो की मेकिंग टल गई। हालांकि बाद में शाहबाज़ खान और शिखा स्वरूप चंद्रकांता में लीड किरदारों में दिखे और ये शो बेहद लोकप्रिय हुआ।

Actor Kamran Rizvi की प्रमुख फिल्में

कामरान की फिल्मों की कोई प्रॉपर लिस्ट कहीं उपलब्ध नहीं है। इसलिए ये कह पाना बेहद मुश्किल है कि इन्होंने कितनी फिल्मों और कितने टीवी शोज़ में काम किया। लेकिन इतना ज़रूर कहा जा सकता है कि तहखाना इनके करियर की सबसे बड़ी फिल्म थी। ये फिल्म बेहद चर्चित रही थी। इसके अलावा 1989 में रिलीज़ हुई फिल्म अंधेरगर्दी में ये एक पुलिस इंस्पेक्टर बने थे।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

इस फिल्म में राज ब्बबर, कीमी काटकर और शक्ति कपूर जैसे बड़े स्टार्स भी नज़र आए थे। वहीं 1990 में रिलीज़ हुई फिल्म दिन दहाड़े में ये राजा नाम के एक गरीब बेरोजगार युवक बने थे। इससे अधिक इनकी फिल्मों के बारे में कोई जानकारी कहीं पर उपलब्ध नहीं है। क्योंकि इस फिल्म के रिलीज़ होने के कुछ ही दिनों बाद चाकू घोंपकर इनकी हत्या कर दी गई थी।

ऐसा था इनका सौतेला भाई

इनकी हत्या इनके ही एक सौतेले भाई Zulfikar Abbas Mithwani ने की थी।

जुल्फिकार उसी विधवा औरत का बेटा था जिससे कामरान के पिता ने तीसरी शादी की थी।

जुल्फिकार के बारे में बताया जाता है कि वो एक सनकी और गुंडा किस्म का युवक था।

कामरान के पिता से अपनी मां का शादी करना उसे ज़रा भी रास नहीं आया था।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

ज़ुल्फिकार की बहन यासमीन भी अपनी मां और कामरान के पिता की शादी से बेहद नाखुश थी।

यासमीन को तो अपनी मां का वो फैसला इतना ज़्यादा बुरा लगा कि उसने नींद की कई सारी गोलियां खाकर आत्महत्या करने की भी कोशिश की।

उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था।

जब कामरान को धमकाने पहुंचा ज़ुल्फिकार

इसके बाद एक दिन ज़ुल्फिकार कामरान के पास गया और उसने कामरान से कहा,

कि वो अपने पिता को समझाए और उनकी विधवा मां की शादी अपने पिता से ना होने दे।

हालांकि कामरान ने ज़ुल्फिकार को जवाब दिया,

कि अपने पिता पर उसका ज़ोर नहीं चलता है और वो इसमें कुछ नहीं कर सकते हैं।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

बच्चों द्वारा काफी ऐतराज़ करने के बावजूद भी जुल्फिकार की मां ने कामरान के पिता से शादी कर ही ली।

लेकिन जब उसे मालूम चला कि उसकी बेटी यासमीन ने,

आत्महत्या की कोशिश की है तो वो कनाडा से भारत लौट आई।

और ज़ुल्फिकार ने कर दी कामरान की हत्या

ज़ुल्फिकार ने ही अपनी मां को एयरपोर्ट पर रिसीव किया.

और मां को अपनी बहन यासमीन के पास अस्पताल में छोड़कर,

जुल्फिकार एक चाकू लेकर कामरान के घर चल दिया।

कामरान के घर के बाहर दोनों के बीच काफी बहस हुई,

और फिर गुस्से से पागल हुए ज़ुल्फिकार ने कामरान को चाकू घोंप दिया।

घायल कामरान को कुछ पड़ोसियों और पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

लेकिन उनकी जान नहीं बचाई जा सकी। 31 मई 1990 के दिन,

कामरान ये दुनिया छोड़कर हमेशा के लिए चले गए।

वहीं कामरान की हत्या करने वाले ज़ुल्फिकार को मुंबई पुलिस ने,

उसकी मां और बहन यासमीन के साथ एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया।

जुल्फिकार हैदराबाद भागने की फिराक में था।

यादों में ज़िंदा रहेंगे कामरान

तो साथियों ये थी कहानी उस अभिनेता की जिसके बारे में कहा जा सकता है,

कि उसकी मौत उसे अमेरिका से खींचकर भारत ले आई थी।

कामरान रिज़वी अगर ज़िंदा होते तो शायद फिल्मों में उनका भी कोई मुकाम होता।

लेकिन एक सनकी की सनक ने इस लंबे-चौड़े और होनहार नौजवान की जान ले ली।

मॉडर्न कबूतर कामरान रिज़वी को तहेदिल से याद करते हुए उनका सम्मान करता है.

और उनकी आत्मा की शांति की कामना करता है। जय हिंद।

Tahkhana-Actor-Kamran-Rizvi-Biography
Photo: YouTube Screenshot

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *