इनको देखते ही दुश्मन के होश हो जाते हैं फाख्ता, ये हैं भारतीय सशस्त्र बलो की 13 वीरांगनाएं

Superwomen of India, Shanti Tigga Indian Army - Photo: Social Media

दोस्तों स्वागत है आपका हमारी इस खास पेशकश में। पुराने भारत की तस्वीर है कि महिलाएं एक लंबा सा घूंघट निकालकर घरों में दुबकी रहती थी। लेकिन आधुनिक भारत में महिलाएं आज हर क्षेत्र में पुरुषों से कंधा मिलाकर चल रही हैं। फिर चाहे वो राजनीति हो, चिकित्सा हो, विज्ञान हो, मैनेजमेंट हो, व्यापार हो या देश की रक्षा करने वाली सेना हो।

आज हम भारतीय सशस्त्र बलों में अपना मुकाम बनाने वाली भारत की 13 वीरांगनाओं से आपको मिला रहे हैं।

01- अंजना भदौरिया

भारतीय सेना में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली महिला हैं अंजना भदौरिया। हालांकि इन्होंने माइक्रोबायोलॉजी में मास्टर्स की पढ़ाई की है और ये चंढीगढ़ की एक फार्मा कंपनी में नौकरी भी कर रहीं थी। लेकिन जब इन्होंने साल 1992 में अखबार में भारतीय सेना का वीमेन स्पेशल एंट्री का विज्ञापन देखा तो बिना देर किए इन्होने आवेदन कर दिया। इनकी किस्मत सही रही और ये सेना में चुन ली गईं।

Superwomen of India, Anjana Bhadauria Indian Army – Photo: Social Media

02- दीपिका मिश्रा

भारतीय वायुसेना की एरोबैटिक हैलिकॉप्टर विंग सारंग की पहली महिला पायलट हैं दीपिका मिश्रा। वायुसेना की एरोबैटिक हैलिकॉप्टर विंग में जगह इन्हें इतनी आसानी से नहीं मिली है। इसके लिए इन्होंने कड़ी मेहनत की है और इनकी मेहनत आखिरकार रंग भी लाई। पहले जहां भारतीय वायुसेना में महिला पायलटों को सिंगल इंजन लाइट वेट हैलिकॉप्टर उड़ाने की ही इजाज़त थी, वहीं बाद में 2010 में नियमों में बदलाव करते हुए वायुसेना ने महिला पायलटों को भी मध्यम और भारी वज़न उठाने वाले डबल इंजन हैलिकॉप्टर उड़ाने की अनुमति दे दी।

Superwomen of India, Deepika Mishra IAF – Photo: Social Media

03- दिव्या अजीत कुमार

महज़ 21 साल की उम्र में दिव्या ने 244 पुरुष-महिला कैडेटों को पछाड़ते हुए बेस्ट ऑल-राउंड कैडेट का अवार्ड अपने नाम किया था। दिव्या को शॉर्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया था।

Superwomen of India, Divya Ajit Kumar, Indian Army – Photo: Social Media

04- गेनीवी लालजी

लेफ्टिनेंट गेनीवी लालजी भारतीय सेना में एडीसी बनने वाली पहली महिला कमांडर हैं। ये अपने परिवार की तीसरी पीढ़ी की सेना अधिकारी हैं। इन्हें साल 2011 में कोर ऑफ मिलिट्री इंटेलीजेंस में कमीशन दिया गया था।

Superwomen of India, Lt. Ganeve Lalji – Photo: Social Media

05- गुंजन सक्सेना

करगिल युद्ध में युद्ध क्षेत्र में उड़ान भरने वाली गुंजन सक्सेना पहली भारतीय महिला पायलट हैं। इनके जीवन पर तो जल्द ही एक फिल्म आने वाली है जिसमें मरहूम भारतीय अभिनेत्री श्रीदेवी की बड़ी बेटी ज्हान्वी कपूर इनका किरदार निभा रही हैं।

Superwomen of India, Gunjan Saxena IAF – Photo: Social Media

06- मिताली मधुमिता

लेफ्टिनेंट कर्नल मिताली मधुमिता भारतीय सेना की पहली महिला ऑफिसर हैं जिन्हें सेना का बहादुरी मेडल दिया गया था। इनकी तैनाती काबुल स्थित भारतीय दूतावास में थी। तालीबानी आतंकियों ने जब भारतीय दूतावास पर आत्मघाती हमला किया तो इन्होंने वीरता और साहस का परिचय देते हुए अपने घायल साथियों की जान बचाई थी।

Superwomen of India, Mitali Madhumita Indian Army – Photo: Social Media

07- निवेदिता चौधरी

फ्लाइट लेफ्टिनेंट निवेदिता चौधरी माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई करने वाली भारतीय वायुसेना की पहली महिला अधिकारी हैं। ये राजस्थान की रहने वाली हैं तो इस तरह माउंट एवरेस्ट फतह करने वाली ये प्रदेश की पहली महिला भी हैं।

Superwomen of India, Nivedita Chaudhary IAF – Photo: Social Media

08- डॉ पद्मावती बंधोपाद्ध्याय

पद्मावती बंधोपाद्ध्याय भारतीय वायूसेना की पहली एयर वाइस मार्शल हैं। इन्हें भारतीय वायुसेना के कई प्रतिष्ठित सम्मानों से नवाज़ा जा चुका है।

Superwomen of India, Dr Padmavathy Bandopadhyay – Photo: Social Media

09- प्रिया झींगान

प्रिया झींगान भारतीय सेना के सशस्त्र जॉइन करने वाली पहली महिला कैडेट हैं। इनका इनरोलमेंट नंबर भी 001 था। इन्होंने 10 सालों तक इंडियन आर्मी में रहकर देश की सेवा की थी।

Superwomen of India, Priya Jhingan Indian Army – Photo: Social Media

10- प्रिया सेमवाल

प्रिया सेमवाल पहली ऐसी भारतीय महिला अधिकारी हैं जिन्होंने अपने पति की मृत्यु के बाद भारतीय सेना जॉइन की। इनके पति दुश्मनों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए थे। प्रिया सेमवाल अब कैप्टन प्रिया सेमवाल के नाम से जानी जाती हैं।

Superwomen of India, Captain Priya Semwal – Photo: Social Media

11- पुनिता अरोड़ा

पुनिता अरोड़ा भारतीय सेना की दूसरी उच्चतम रैंक यानि लेफ्टिनेंट जनरल के पद तक पहुंचने वाली पहली महिला हैं। इन्होंने 36 साल तक भारतीय सेना की सेवा की और सेवा के दौरान इनको 15 पदकों से सम्मानित किया गया।

Superwomen of India, Punita Arora Indian Army – Photo: Social Media

12- शांति तिग्गा

शांति तिग्गा भारतीय सशस्त्र बल का हिस्सा बनने वाली पहली भारतीय महिला हैं। दो बच्चों की मां होने के बावजूद इन्होंने अपनी फिटनेस का लोहा मानने के लिए हर किसी को मजबूर कर दिया है।

Superwomen of India, Shanti Tigga Indian Army – Photo: Social Media

13- सोफिया कुरैशी

लेफ्टिनेंट कर्नल सोफिया कुरैशी बहुराष्ट्रीय सेना अभ्यास में भारत का नेतृत्व करने वाली पहली भारतीय महिला अधिकारी हैं। ये साल 1999 में मात्र 17 साल की उम्र में ही भारतीय सेना का हिस्सा बन चुकी थीं। गुजरात की रहने वाली सोफिया कुरैशी का फैमिली बैकग्राउंड आर्मी का ही रहा है और इनके दादा भी भारतीय सेना में थे। इनके पति भी मैकेनाइज़्ड इन्फेंट्री में ऑफिसर हैं।

Superwomen of India, Lt. Col. Sofia Qureshi – Photo: Social Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *