August 5, 2021

Guddi Maruti Biography: गुड्डी मारूति की पूरी जीवनी जान लीजिए

Guddi-Maruti-Biography

Photo: Social Media

Guddi Maruti. टुन टुन के बाद सही मायनों में अगर कोई फीमेल कॉमेडियन हिंदी सिनेमा में हुई है तो वो गुड्डी मारूति ही है। किसी फिल्म में इनका होना ही इस बात की तस्दीक करने के लिए काफी है कि उस फिल्म में कॉमेडी का भी तड़का लगा है। इनकी शख्सियत ही ऐसी है कि इन्हें देखकर किसी के भी चेहरे पर मुस्कुराहट तैर जाए। सिल्वर स्क्रीन से लेकर छोटे पर्दे तक। गुड्डी मारूति ने अपनी कॉमेडी से हम सब का मनोरंजन किया। अस्सी के दशक में शुरू हुआ गुड्डी मारूति का एक्टिंग का सफर आज भी बदस्तूर जारी है।

Modern Kabootar आज आपको गुड्डी Guddi Maruti की कहानी सुनाएगा। Guddi Maruti फिल्मों में कैसे आई और इन दिनों वो फिल्मों से क्यों गायब हो गई, ये सारी कहानी आज हम और आप जानेंगे।

Guddi Maruti का शुरूआती जीवन

गुड्डी मारूति का जन्म हुआ था 4 अप्रैल 1959 को। इनके पिता मारुति परब हिंदी सिनेमा के गुज़रे ज़माने के मशहूर एक्टर और डायरेक्टर थे। वहीं इनकी मां कमल भी 50 के दशक में कई फिल्मों में सपोर्टिंग एक्ट्रेस की हैसियत से काम कर चुकी थी। गुड्डी का असली नाम ताहिरा परब है। लेकिन प्यार से इनके माता-पिता इन्हें गुड्डी कहकर पुकारते थे। इत्तेफाक से यही नाम इनका फिल्मी नाम भी बन गया।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

Guddi Maruti के भाई की कर दी गई थी हत्या

गुड्डी मारूति के अलावा मारुति परब का एक बेटा दारा मुनव्वर अली और एक बेटी वैजयंती हैं। इनका बेटा दारा मुनव्वर अली यानि गुड्डी मारूति का भाई हिंदू धर्म छोड़कर इस्लाम में कैसे आया इसका तो कहीं कोई ज़िक्र नहीं मिलता। लेकिन साल 1997 में दारा मुनव्वर अली को अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील के एक गुर्गे ने मार डाला था। इनकी बहन वैजयंती ने संगीतकार प्यारेलाल के भाई और मशहूर गिटारिस्ट गोरख शर्मा से शादी की है। हालांकि गोरख शर्मा अब इस दुनिया में नहीं रहे हैं।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर शुरू हुआ था Guddi Maruti का करियर

स्कूल के दिनों में गुड्डी के मोटापे का काफी मज़ाक उड़ाया जाता था। गुड्डी इससे काफी परेशान भी होती थी। लेकिन गुड्डी के पिता मारुति परब तब इन्हें काफी हौंसला दिया करते थे। बात अगर गुड्डी मारूति के फिल्मी करियर की करें तो इनका फिल्मी करियर चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर शुरू हो गया था।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

गुड्डी महज़ 10 साल की थी और छठी क्लास में पढ़ रही थी जब इन्हें इनकी ज़िंदगी का पहला रोल मिला था। हुआ कुछ यूं कि गुड्डी अक्सर अपने पिता मारूति परब के साथ फिल्मों की शूटिंग देखने जाती रहती थी।

ये थी Guddi Maruti की पहली फिल्म

एक दिन ताहिरा उर्फ गुड्डी अपने पिता के साथ “जान हाज़िर है” नाम की फिल्म के सेट पर पहुंच गई। इस फिल्म के डायरेक्टर को एक चाइल्ड आर्टिस्ट की ज़रूरत थी। डायरेक्टर ने जब गुड्डी को देखा तो तुरंत उसने फैसला कर लिया कि उसकी फिल्म में चाइल्ड आर्टिस्ट का काम मारुति जी की बेटी गुड्डी ही करेगी। और इस तरह ताहिरा परब उर्फ गुड्डी मारुति के एक्टिंग करियर की शुरूआत हो गई।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

“जान हाज़िर है” फिल्म के क्रेडिट्स में डायरेक्टर ने इनका नाम ताहिरा की जगह गुड्डी ही दिया। पहली फिल्म के कुछ सालों बाद यानि जब ताहिरा की उम्र लगभग 17 साल थी तब इन्हें फिल्म “सौ दिन सास के” में काम करने का मौका मिला। हालांकि इस फिल्म में इनका रोल काफी छोटा था। लेकिन ये फिल्म इनके करियर की पहली फिल्म मानी जाती है।

ऐसे बनी ताहिरा परब से Guddi Maruti

गुड्डी के नाम के साथ मारुति नाम कैसे जुड़ा इसका किस्सा कुछ यूं है कि “सौ दिन सास के” से भी पहले इन्होंने मनमोहन देसाई की ब्लॉकबस्टर फिल्म नसीब के कबड्डी सॉन्ग में काम किया था। नसीब फिल्म में ये केवल उसी गाने में नज़र आई थी। मनमोहन देसाई चाहते थे कि गुड्डी नाम को बदला जाए।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

लेकिन हुआ कुछ यूं कि जब फिल्म के सेट पर गुड्डी का ज़िक्र होता तो हर कोई यही कहता कि गुड्डी यानि मारुति जी की बेटी। तब मनमोहन देसाई ने इनका नाम गुड्डी मारुति रखा और फिर ताहिरा परब गुड्डी मारुति के नाम से मशहूर हो गई।

पिता ने दी थी बड़े काम की सलाह

एक इंटरव्यू में गुड्डी मारुति ने बताया था कि एक वक्त वो भी था जब गुड्डी भी अपना वज़न कम करना चाहती थी। लेकिन इनके पिता मारुति परब ने एक दिन इन्हें समझाया कि तुम फिल्म में हिरोइन नहीं बनती हो, कॉमेडियन बनती हो। इसलिए बेहतर होगा कि तुम अपना वज़न कम ना करो।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

एक कॉमेडियन को दर्शक इसी तरह देखना पसंद करते हैं। ये बात कहने के कुछ ही दिनों बाद इनके पिता की अचानक मृत्यू हो गई थी। ऐसे में परिवार चलाने की ज़िम्मेदारी गुड्डी मारुति के ऊपर आ गई और गुड्डी ने भी फिल्मों में और मेहनत से काम करना शुरू कर दिया।

प्रीति गांगुली को Guddi Maruti ने ही रिप्लेस किया

अपने लगभग तीन दशक लंबे फिल्मी करियर में इन्होंने लगभग सौ फिल्मों में काम किया। इनकी यादगार फिल्मों की बात करें तो सनम तेरी कसम, नगीना, आग और शोला, शोला और शबनम, जैसी करनी वैसी भरनी, खिलाड़ी, चमत्कार, बलवान, दुल्हे राजा और बीवी नंबर वन में इनके काम को खूब पसंद किया गया। फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों का मानना है कि ये गुड्डी मारुति ही थी जिन्होंने प्रीति गांगुली की जगह ली थी।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

सही मायनों में कहा जाए तो प्रीति गांगुली को फिल्मों से रिप्लेस किया था। वो इसलिए क्योंकि गुड्डी से पहले प्रीति गांगुली ही फिल्मों में मोटी औरत के किरदार निभाया करती थी। लेकिन जब अचानक प्रीति गांगुली ने अपना वज़न कम कर लिया तो फिल्मों में उन्हें काम मिलना बंद हो गया और उनकी जगह गुड्डी मारुति ने ले ली।

जब फिल्मों से लिया लंबा ब्रेक

गुड्डी मारुति के जीवन में एक वक्त ऐसा भी आया था जब इन्होंने फिल्मों से ब्रेक ले लिया था। दरअसल, इन्होंने अशोक नाम के एक बिजनेसमैन से शादी कर ली थी। शादी के बाद गुड्डी ने लगभग 9 सालों तक खुद को एक्टिंग से दूर कर लिया था। बताया जाता है कि गुड्डी और उनके पति अशोक फैमिली प्लानिंग कर रहे थे।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

डॉक्टर ने गुड्डी को सलाह दी थी कि फिलहाल उन्हें फिल्मों में काम करना बंद कर देना चाहिए। लेकिन मोटापे के चलते गुड्डी कभी मां नहीं बन पाई। फिल्म रहगुज़र में काम करने के बाद इन्होंने फिल्मों से ब्रेक लिया और फिर 2015 में आई फिल्म हम सब उल्लू हैं से दोबारा इन्होंने अपना अभिनय करियर शुरू किया।

छोटे पर्दे पर भी किया खूब काम

यहां आपको ये बताना भी ज़रूरी है कि गुड्डी मारुति ने केवल फिल्मों में ही नहीं बल्कि टीवी पर भी काफी काम किया है। टीवी पर पहली दफा ये नज़र आई थी साल 1986 में। दूरदर्शन पर आने वाले शो “इधर उधर” में इन्होंने मोटी शबनम के किरदार को जिया था। फिर कई सालों बाद यानि साल 2007 में गुड्डी मारूति एक बार फिर टीवी पर नज़र आई “अगड़म बगड़म तिकड़म” नाम के शो में जिसमें ये रोज़ी के रोल में नज़र आई। ये शो डिज़्नी चैनल पर प्रसारित हुआ था।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

इसके अलावा “मिसेज कौशिक की पांच बहुएं”, “डोली अरमानो की”, “ये उन दिनों की बात है” और “हैलो ज़िदगी” नाम के टीवी शोज़ में भी इन्होंने काम किया था। “डोली अरमानों की” शो में इनके किरदार बुआ को काफी पसंद किया गया। खासकर महिलाओं को इनका वो किरदार ज़्यादा पसंद आया।

सदा सेहतमंद रहें गुड्डी मारुति

गुड्डी मारूति की उम्र अब साठ साल हो चुकी है। लेकिन अब भी गुड्डी मारुति एक्टिंग में एक्टिव हैं। हालांकि अब वो कुछ गिने-चुने प्रोजेक्ट्स में ही नज़र आती हैं। लेकिन फिर भी खुद के भीतर एक्टिंग की अलख को गुड्डी मारुति ने जलाकर रखा है।

Guddi-Maruti-Biography
Photo: Social Media

मॉडर्न कबूतर गुड्डी मारुति की अच्छी सेहत के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता है। और उम्मीद करता है कि गुड्डी मारुति को फिल्मों में फिर से वो रोल्स मिलने शुरू हो जाएं जिनमें दर्शक उन्हें सबसे ज़्यादा पसंद करते हैं। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में गुड्डी मारुति के योगदान को मॉडर्न कबूतर सैल्यूट करता है। जय हिंद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *