Pulao और Briyani के बीच होता है इतना ज़्यादा फर्क लेकिन भारत में कम ही लोग जानते हैं

difference between pulao and biryani - Photo Courtesy: timesofindia.com

Pulao और Briyani. India में ये इन दोनों को ही बेहद पसंद किया जाता है। लेकिन अक्सर विदेशी सवाल पूछते हैं कि Pulao और Briyani में क्या फर्क होता है। विदेशियों के इस सवाल का जवाब कई दफा हमारे यहां के लोग भी नहीं दे पाते हैं। हालांकि इस सवाल का सबसे पहला जवाब तो यही है कि Pulao और Briyani को पकाने का तरीका एकदम अलग होता है।

difference between pulao and biryani – Photo Courtesy: timesofindia.com

जहां Biryani को ड्रेनिंग मैथड से तैयार किया जाता है वहीं Pulao को अबसोर्पशन मैथड से पकाया जाता है। पुलाव की तुलना में बिरयानी में कहीं अधिक मात्रा में और अलग-अलग प्रकार के मसालों का इस्तेमाल किया जाता है।

चलिए आपको विस्तार से बताते हैं कि Pulao और Briyani में आखिर क्या फर्क होता है।

ओरिजिन

बात अगर इन दोनों डिशों के ओरिजिन यानि इनके मूल स्थान के बारे में करें तो बिरयानी सबसे पहले भारतीय उपमहाद्वीप में पकाई जानी शुरू की गई थी। मध्यकाल के मुस्लिम साम्राज्यों में बिरयानी बेहद लोकप्रिय थी और आज भी इसकी लोकप्रियता बरकरार है। वहीं पुलाव को सबसे पहले सेंट्रल एशिया में पकाना शुरू किया गया था। पुलाव विदेशियों के साथ भारत में पहुंचा था।

difference between pulao and biryani – Photo Courtesy: timesofindia.com

बनाने की तकनीक

बिरयानी को पकाते समय चावलों को एक खास पानी में उबाला जाता है। इस पानी में पहले विभिन्न मसालों, लहसुन, प्याज और मांस को अच्छी तरह से उबाला जाता है। फिर इसी पानी में बिरयानी के चावल पकाए जाते हैं। वहीं पुलाव में चावल के साथ-साथ सभी इन्ग्रीडिएंट्स को पानी में पकाया जाता है।

difference between pulao and biryani – Photo Courtesy: timesofindia.com

लेयरिंग

बिरयानी में कम से कम दो लेयर यानि परत होती हैं। एक परत मांस या फिर सब्जियों की होती है और दूसरी परत भुनी हुई प्याज की होती है। बात अगर पुलाव की करें तो इसमें कोई लेयर नहीं होती। इसमें चावल, सब्जियां और सभी मसाले अच्छी तरह से मिले हुए होते हैं।

difference between pulao and biryani – Photo Courtesy: timesofindia.com

मसाले

बिरयानी को ढेर सारे और विभिन्न प्रकार से खुशबूदार मसालों के साथ पकाया जाता है। वहीं पुलाव में रेगुलर मसालों का ही इस्तेमाल किया जाता है।

difference between pulao and biryani – Photo Courtesy: timesofindia.com

पकने का समय

पुलाव की तुलना में बिरयानी को पकाने में अधिक समय लगता है। बिरयानी को स्लो कुकिंग मेथड से पकाया जाता है। यानि धीमी आंच पर ऐसे बर्तन में बिरयानी को पकाया जाता है जिसमें से भाप कम मात्रा में बाहर निकल पाए। पुलाव बिरयानी से जल्दी तैयार हो जाता है और इसे मीडियम या फिर तेज़ आंच पर पकाया जाता है।

difference between pulao and biryani – Photo Courtesy: timesofindia.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *