India के लोग भी नहीं जानते Butter Milk और Lassi के बीच का फर्क, आप जान लीजिए

difference between buttermilk and lassi - Photo Courtesy: timesofindia.com

Butter Milk और Lassi. आपने इन दोनों का ही स्वाद ज़रूर लिया होगा। अक्सर विदेशी Butter Milk और Lassi में फर्क नहीं कर पाते हैं। विदेशी छोड़िए, कुछ भारतीय भी ये नहीं जानते हैं कि Butter Milk और Lassi दो एकदम अलग-अलग चीज़ें हैं। वैल, ये दोनों ही दूध से बनते हैं और दोनों का स्वाद लाजवाब होता है। Butter Milk की बात करें तो ये दूध और पानी तथा कुछ मसालों से तैयार होने वाला पतला सा पेय पदार्थ है।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: Pixabay

जीरे, हरी मिर्च, दूध, ढेर सारा पानी और थोड़ा सा दही मिलाकर Butter Milk तैयार किया जाता है। जबकि लस्सी होती है गाढ़ी और क्रीमी। लस्सी को कई तरीकों से लोग तैयार करते हैं। लस्सी को लोग नमकीन, मीठी या खट्टी-मीठी बनाते हैं। लस्सी कैसी भी हो, इसका स्वाद हमेशा लोगों को पसंद आता है।

तो चलिए साथियों आज हम आपको हमारे देश के गांवों और शहरों, दोनों में बेहद लोकप्रिय Butter Milk और Lassi के बीच का फर्क बताते हैं।

बटर मिल्क है गुजराती और लस्सी है पंजाबी

गुजरात में बटर मिल्क हर घर में तैयार किया जाता है। और सिर्फ गुजरात में ही नहीं, राजस्थान में भी बटर मिल्क ही अधिक पॉप्युलर है। पंजाब में लस्सी का क्रेज़ है और पंजाब के हर घर में लस्सी तैयार की जाती है। हालांकि लस्सी को सिर्फ पंजाब ही नहीं, गुजरात और राजस्थान में भी खूब पसंद किया जाता है। इतना ही नहीं, भारत के हर क्षेत्र में लोग लस्सी और बटर मिल्क, दोनों को पसंद करते हैं।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

 

अलग तरह से तैयार होते हैं दोनों

बटर मिल्क को दूध से निकाले गए बटर से तैयार किया जाता है। गुजरात और राजस्थान में ग्रामीण महिलाएं दूध को घर पर ही बिलोकर उसमें से बटर निकालती हैं और फिर बटर मिल्क तैयार किया जाता है। वहीं लस्सी को दही या फिर योगर्ट को पानी के साथ ब्लैंड करके और फिर चीनी या फिर नमक मिलाकर तैयार किया जाता है।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

बटर मिल्क से होता है वज़न कम

अगर आप उन लोगों में से एक हैं जो इन दिनों अपना वज़न घटाने के लिए मेहनत और संघर्ष कर रहे हैं तो आपके लिए बटर मिल्क एक पर्फेक्ट ड्रिंक है। बटर मिल्क में से पहले ही फैटी बटर हटा लिया जाता है और इसे ढेर सारे पानी से तैयार किया जाता है। इसलिए इसमें बेहद कम कैलोरी बचती हैं। जबकि लस्सी में पानी मिलाने के बावजूद भी काफी कैलोरी बच जाती है।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

लस्सी के होते हैं कई सारे फ्लेवर्स

जहां बटर मिल्क का कोई फ्लेवर नहीं होता है वहीं लस्सी कई सारे फ्लेवर्स में मिलती है जैसे मैंगो फ्लेवर, पैपरमिंट फ्लेवर, स्ट्रॉबैरी फ्लेवर व और भी ढेर सारे फ्लेवर्स आपको लस्सी में मिल जाएंगे।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

गाढ़ी होती है लस्सी

लस्सी की तुलना में बटर मिल्क में कहीं ज़्यादा पानी होता है। यही वजह है कि बटर मिल्क काफी पतला होता है। जबकि लस्सी में पानी की मात्रा बहुत कम होती है इसलिए लस्सी बटर मिल्क से काफी ज़्यादा गाढ़ी होती है।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

बटर मिल्क लस्सी से ज़्यादा मसालेदार

लस्सी भले ही नमकीन भी बनाई जाती हो लेकिन बटर मिल्क लस्सी से कहीं ज़्यादा मसालेदार होता है। बटर मिल्क में हरी मिर्च, काली मिर्च पाउडर, जीरा और धनिया मिलाया जाता है।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

पाचनतंत्र के लिए बटर मिल्क है बढ़िया

चूंकी बटर मिल्क काफी हल्का और मसालों से बना होता है इसलिए ये हमारे पेट के लिए बेहद फायदेमंद होता है। बटर मिल्क पीने से पाचनतंत्र को भी लाभ मिलता है। लस्सी स्वादिष्ट होती है और गर्मियों में लस्सी भी पेट के लिए बेहद फायदेमंद रहती है। लेकिन जो लोग अपच की समस्या से जूझ रहे हैं उनके लिए बटर मिल्क बेहतर विकल्प है।

difference between buttermilk and lassi – Photo Courtesy: timesofindia.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *