Cricketer Umesh Yadav Biography: यूं ही नहीं मिल गई टीम इंडिया की जर्सी

Credit: amarujala.com

Cricketer Umesh Yadav Biography. कहते हैं कि जब किसी चीज़ को पाने की ललक हो तो पूरी कायनात उस चीज़ को चाहने वाले के पास पहुंचाने की कोशिशों में लग जाती है। आज हम जिस इंसान की कहानी आपसे शेयर कर रहे हैं, उस पर ये कहावत एकदम सटीक बैठती है। जी हां, हम बात कर रहे हैं क्रिकेट उमेश यादव की। उमेश यादव आज टीम इंडिया के एक बेहद अहम गेंदबाज़ हैं। उमेश कुमार यूं तो मूलरूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं।

इनकी पैदाईश भी 25 अक्टूबर 1987 को उत्तर प्रदेश के देवरिया में हुई थी। लेकिन इनकी परवरिश नागपुर में हुई, और यही वजह है कि इन्होंने क्रिकेट भी नागपुर की तरफ से ही खेला है। Cricketer Umesh Yadav Biography.

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

बनना चाहते थे फौजी (Cricketer Umesh Yadav Biography)

आप भी शायद ये बात जानते होंगे कि उमेश यादव पहले सेना या पुलिस में भर्ती होने की तैयारियों में जुटे थे। उमेश चाहते थे कि सेना या पुलिस में सिपाही की नौकरी लेकर अपने भविष्य को सुरक्षित किया जाए।

उमेश यादव के पिता एक कोयला खदान में काम करते थे। ये खदान थी नागपुर के पास ही मौजूद खापरखेड़ा में स्थित वेस्टर्न कोल लिमिटेड। उमेश के पिता अपने परिवार सहित इसी खदान की कॉलोनी में रहा करते थे।

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

बुरे हालातों से लड़े उमेश (Cricketer Umesh Yadav Biography)

उमेश का बचपन इसी कॉलोनी में बीता। उमेश ने इस छोटी सी कॉलोनी से टीम इंडिया तक का सफर यूं ही नहीं तय किया। इस दौरान उमेश ने कई बड़ी मुश्किलों का भी सामना किया। इनके पिता की चार संताने हैं। दो बेटे और दो बेटियां। वे चाहते थे कि उनका कोई एक बच्चा तो कॉलेज में पढ़ाई करे।

हालांकि उन दिनों उनके घर के हालात इतने बुरे थे कि चाहकर भी उमेश के पिता अपनी ये ख्वाहिश पूरी नहीं कर पाए। कई दफा तो घर का खर्च तक नहीं निकल पाता था। उमेश चाहते थे कि वो कॉलेज में पढ़ाई करें। लेकिन घर की आर्थिक स्थिति के चलते उनका ये सपना कभी पूरा नहीं हो सका।

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

उमेश का कॉन्फिडेंस

फर्स्ट क्लास क्रिकेट की शुरूआत उमेश यादव ने 20 साल की उम्र से ही कर दी थी। उस वक्त उन्हें लाल रंग की एसटी टेस्ट बॉल से खेलने का ना तो कोई तजुर्बा था और ना ही कोई अंदाज़ा। लेकिन उमेश शुरू से ही ये जानते थे कि अपनी रफ्तार के दम पर वो आगे बढ़ते रहेंगे।

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

विदर्भ के पहले क्रिकेटर

डॉमेस्टिक क्रिकेट में उमेश ने विदर्भ की तरफ से खेलना शुरू किया। उमेश यादव ही टेस्ट खेलने वाले विदर्भ के पहले क्रिकेटर भी बने। लेदर बॉल से पहली दफा गेंदबाज़ी भी उमेश ने विदर्भ की टीम में शामिल होने के बाद ही की थी। उससे पहले उमेश ने जितना भी क्रिकेट खेला था, वो सब टेनिस बॉल से ही खेला था।

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

फुरसत में करते हैं ये काम

2008 में आईपीएल फ्रेंचायज़ी दिल्ली डेयरडेविल्स ने उमेश यादव को 18 लाख रुपए में खरीदा था। इन्होंने 2010 में वनडे में टीम इंडिया के लिए डेब्यू किया और 2011 में टेस्ट में टीम इंडिया की तरफ से डेब्यू किया। उमेश बताते हैं कि जब भी उन्हें क्रिकेट से फुरसत मिलती है तो वो अपने पिता के साथ अपने खेतों में काम करते हैं।

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

उमेश यादव का लेडी लक

बात अगर उमेश के लेडी लक के बारे में करें तो,

दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेलते हुए ही 2010 में,

उनकी मुलाकात तान्या वाधवा से हुई थी।

शुरूआत में दोनों के बीच दोस्ती हुई, जो तकरीबन दो सालों तक चली।

फिर आया 2012 और इस साल उमेश ने तान्या को प्रपोज़ कर दिया।

तान्या ने उमेश का प्रपोज़ल स्वीकार कर लिया और फिर दोनों ने,

1 सालों की डेटिंग के बाद आखिरकार 2013 की मई में शादी कर ली।

Cricketer-Umesh-Yadav-Biography
Photo: Social Media

आगे बढ़ते रहें उमेश

उमेश यादव ने टीम इंडिया में 28 मई 2010 को डेब्यू किया था।

उमेश अब तक 43 टेस्ट मैच टीम इंडिया के लिए खेल चुके हैं।

60 टेस्ट विकेट उमेश अब तक अपने नाम कर चुके हैं।

वहीं उमेश 75 वनडे मैच भी खेल चुके हैं और वनडे मैचों में 106 विकेट भी चटका चुके हैं।

टी20 क्रिकेट के लिहाज से देखें तो उमेश कुल,

7 टी20 मैच ही अब तक खेले हैं और 9 विकेट चटका चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *