Arvind Trivedi: Ramayan में केवट बनने गए थे लेकिन इस तरह Ravan बनकर छा गए

Ravan actor in Ramayan - Photo: Social Media

Arvind Trivedi. इस नाम से आप भले ही अच्छी तरह से वाकिफ ना हों, लेकिन इनके निभाए रावण के किरदार को आप बहुत अच्छी तरह से जानते होंगे। कोरोना वायरस के चलते जब सरकार को मजबूरी में सारे देश में लॉकडाउन लगाना पड़ा तो दूरदर्शन पर भी 33 साल बाद फिर से रामायाण का प्रसारण करने का फैसला लिया गया।

रामायण जब दूरदर्शन पर फिर से आई तो एक बार फिर से टीआरपी के सभी रिकॉर्ड्स टूट गए। देशभर में रामायण और इसके कलाकारों की चर्चा होने लगी। और लोगों को रामायण में रावण का किरदार निभाने वाला ये कलाकार भी याद आया, जिसकी बराबरी टीवी की दुनिया का कोई और रावण नहीं कर पाया।

Arvind-Trivedi-as-Ravan-in-Ramayan
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

इनका नाम है Arvind Trivedi और आज हम आपको रामायण में इनके रावण बनने का दिलचस्प किस्सा बताएंगे। यकीनन आपको Arvind Trivedi का ये किस्सा बेहद पसंद आने वाला है। लेकिन पहले हम जानेंगे इनकी ज़िंदगी की कहानी पर।

Arvind Trivedi का शुरूआती जीवन

अरविंद त्रिवेदी का जन्म 8 नवंबर 1938 को इंदौर में हुआ था। इनके पिता का नाम जेठालाल त्रिवेदी था और वो मूलरूप से गुजराती थे। इनके भाई उपेंद्र त्रिवेदी भी इनकी तरह ही एक एक्टर हैं और उन्होंने कई हिंदी और गुजराती फिल्मों में काम किया है।

साथ ही रंगमंच की दुनिया से भी उपेंद्र त्रिवेदी जुड़े रहे हैं। बड़े भाई के नक्शे कदम पर चलते हुए अरविंद त्रिवेदी भी फिल्मों की दुनिया में एक्टिव हुए और इन्होंने भी शुरूआत में थिएटर में काम किया।

उसके बाद ये फिल्मी दुनिया में उतरे और इन्होंने भी कई हिंदी और गुजराती फिल्मों में काम किया। गुजराती फिल्मों में अरविंद और इनके भाई उपेंद्र को खूब सफलता मिली।

Actor-Arvind-Trivedi
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

जब रामायण का हिस्सा बनने मुंबई पहुंचे Arvind Trivedi

फिल्मों के साथ-साथ अरविंद टीवी की दुनिया में भी एक्टिव हुए और इन्होंने सबसे पहले काम किया दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले बेहद मशहूर शो विक्रम और बेताल में। ये टीवी शो 1985 में दूरदर्शन पर प्रसारित होना शुरू हुआ था।

1987 में जब इन्हें मालूम चला कि रामानंद सागर रामायण बना रहे हैं और उसमें फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े और दिग्गज कलाकार काम कर रहे हैं तो इनके दिल में भी रामायण का हिस्सा बनने की ख्वाहिश जगी। उन दिनों अरविंद त्रिवेदी गुजरात में थे और रामायण में केवट का रोल करने के लिए ये ऑडिशन देने के लिए मुंबई निकल पड़े।

Actor-Arvind-Trivedi
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

अमरीश पुरी बनने वाले थे रावण

तब तक अरुण गोविल भगवान राम के किरदार निभाने के लिए चुन लिए गए थे। अरुण गोविल ने रामानंद सागर को रावण के किरदार के लिए अमरीश पुरी का नाम सुझाया था। रामानंद सागर भी अमरीश पुरी को ही रावण के रोल के लिए कास्ट करना चाहते थे।

लेकिन अमरीश पुरी ने ये रोल करने से इन्कार कर दिया। अमरीश पुरी के इन्कार करने की दो वजहें थी। पहली ये, कि अमरीश पुरी उन दिनों विलेन के तौर पर सफल होना शुरू हुए थे। जबकी वो दौर टीवी के लिए एक नया दौर था।

अमरीश पुरी खुद को टीवी के दायरे में नहीं बांधना चाहते थे। और दूसरी वजह थी फिल्मों से मिलने वाला पैसा। रामायण सागर अमरीश पुरी को जो ऑफर दे रहे थे, अमरीश पुरी को वो पसंद नहीं आ रहा था। तो इस तरह अमरीश पुरी रामायण का हिस्सा बनने से रह गए।

Amrish-Puri-with-Prem-Nath
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

इस तरह Arvind Trivedi बने रावण

अरविंद त्रिवेदी मुंबई आए और सीधा रामानंद सागर के ऑफिस पहुंचे।

रामानंद सागर ने अरविंद त्रिवेदी का ऑडिशन शुरू किया और उन्हें स्क्रिप्ट पढ़ने को दी।

अरविंद त्रिवेदी ने वो स्क्रिप्ट पढ़नी शुरू की और जब अरविंद त्रिवेदी ने वो स्क्रिप्ट पढ़कर खत्म की,

तो ऑडिशन रूम में सन्नाटा पसर गया।

अरविंद को लगा कि शायद रामानंद सागर को उनका ऑडिशन पसंद नहीं आया।

एक असिस्टेंट को स्क्रिप्ट लौटाकर अरविंद त्रिवेदी वापस जाने लगे।

उन्हें जाता देख रामानंद सागर अपने केबिन से उठकर आए और बोले,

मुझे लंकेश मिल गया। अब तुम रामायण में लंकेश का किरदार निभाओगे।

Ravan-in-Ramayan
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

ये बोले थे रामानंद सागर

रामानंद सागर की ये बात सुनकर अरविंद त्रिवेदी हैरान थे।

उनकी हैरानगी देखकर रामानंद सागर बोले तुम्हारी बॉडी लैंग्वेज देखकर मैं समझ गया था,

कि तुम रावण के रोल के लिए एकदम परफेक्ट हो।

वो रामायण के किरदार के लिए एक ऐसा एक्टर तलाश रहे थे.

जो ना केवल बुद्धिमान दिखता हो, बल्कि बलवान भी नज़र आता हो।

इत्तेफाक से तुम्हारे अंदर ये सारी खूबियां हैं। इसलिए तुम ही रामनायण में रावण बनोगे।

और इस तरह अरविंद त्रिवेदी रामायण का हिस्सा बने।

Ravan-in-Ramayan
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

ऐसी है इनकी निजी ज़िंदगी

अगर इनकी निज़ी ज़िंदगी के बारे में बात करें तो,

अरविंद त्रिवेदी ने 12वीं तक की अपनी पढ़ाई मुंबई के भावन्स कॉलेज से की है।

4 जून 1966 को इनकी शादी हो गई। इनकी पत्नी का नाम नलिनी है। उनसे इनकी तीन बेटियां हुई।

अपने एक्टिंग करियर में इन्होंने 300 से भी ज़्यादा हिंदी और गुजराती फिल्मों में काम किया है।

जैकी श्रॉफ, अनिल कपूर और शाहरुख खान स्टारर त्रीमूर्ति फिल्म में,

मुख्य विलेन की भूमिका में अरविंद त्रिवेदी ही नज़र आए थे।

Actor-Arvind-Trivedi
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

राजनीति में भी चमके अरविंद

अरविंद त्रिवेदी ने राजनीति में भी अपने कदम रखे।

साल 1991 के चुनावों में ये भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर,

गुजरात की साबरकाठा लोकसभा सीट से जीतकर सांसद भी बने।

2002 में वाजपेयी सरकार में अरविंद त्रिवेदी को सीबीएफसी,

यानि सेंट्रल बोर्ड फॉर फिल्म सर्टिफिकेशन का चेयरमैन भी बनाया गया।

इस पद पर ये एक साल से कुछ फालतू समय तक रहे।

गुजराती सिनेमा में इनके शानदार योगदान के लिए,

गुजरात प्रदेश सरकार की तरफ से 7 बार बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड भी दिया गया।

Actor-Arvind-Trivedi
Ravan actor in Ramayan – Photo: Social Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *